Manali | मनाली की ये 5 खूबसूरत टूरिस्ट स्पॉट कराएंगे आपको जन्नत का अहसास

image credit : social media

खूबसूरत वादियों के बीच ऊंची घाटियों में बसा मनाली अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है. गर्मी के दिनों में यह जगह किसी जन्नत से कम नहीं होती.

image credit : social media

नीचे रहने वाले हज़ारों लोग इस घाटी की खूबसूरत फ़िज़ाओं में अपनी छुट्टियां मनाने के लिए आते हैं. 

image credit : social media

सालभर ठंड लिए इस शहर की ऊंची पहाड़ियां और खूबसूरत घने जंगल आपका दिन बना देंगे. पहाड़ों पर जाने का मन करे, तो मनाली बनाइए. 

image credit : social media

लंबी छुट्टी लेकर अगर आप इस जगह पर आते हैं, तो नेचर के करीब रहते हुए तरोताज़ा महसूस करेंगे.

image credit : social media

जिन्हें बर्फ देखने की चाहत है, वे गर्मियों में मनाली आएं, तो रोहतांग पास ज़रूर जाएं. यहां बारहों महीने बर्फ देखने को मिलती है. 

image credit : social media

हालांकि नवंबर के बाद बढ़ती बर्फ की वजह से इस दर्रे को कुछ महीनों के लिए बंद कर दिया जाता है. 

image credit : social media

यहां मौजूद कोठी, नेहरू कुंड और जोगिनी फॉल्स देखने लायक है.

image credit : social media

मनाली से 13 किलोमीटर की दूरी पर स्थित सोलांग वैली टूरिस्ट के लिए आकर्षण का अहम केंद्र माना जाता है. 

image credit : social media

अगर आप एडवेंचर के शौकीन हैं, तो यह आपके लिए बेहद खास साबित हो सकती है. यहां पैराग्लाइडिंग, 

image credit : social media

एयर बलून, ट्रेकिंग, ज़िपवे, रोप वे जैसी एक्टिविटीज की जा सकती है.

image credit : social media

ब्यास नदी के बगल में ऊंचाई पर स्थित नग्गर एक वक्त में राजधानी हुआ करती थी. 

image credit : social media

इसी जगह मौजूद नग्गर कैसल टूरिस्ट के आकर्षण का मुख्य केंद्र है. .

image credit : social media

आर्किटेचर का  नमूना जिसमें पत्थरों से लेकर लकड़ियों तक का इस्तेमाल कर इस कैसल को बनाया गया है. 

image credit : social media

आज इस कैसल को हिमाचल सरकार की तरफ से हेरिटेज होटल के तौर पर चलाया जाता है

image credit : social media

इस जगह का नाम वशिष्ठ मुनि के नाम पर वशिष्ठ रखा गया था. इस स्थान पर वशिष्ठ मुनि का मंदिर है.

image credit : social media

मनाली से कुछ ऊंचाई पर मौजूद यह मंदिर अपने विशेष कारणों से टूरिस्ट के बीच चर्चा में रहता है. यहां मौजूद कुंड में साल भर गर्म पानी आता है. 

image credit : social media

यह पानी ऊंचे पहाड़ों से आता है और बारहों महीने यह पानी इसी तरह कुंड में आता रहता है.

image credit : social media

मनाली के मॉल रोड से थोड़ी दूरी पर ऊंचाई पर बसा हिडिंबा देवी टेंपल आपकी आंखों को बेहद सुकून देगा. 

image credit : social media

ऊंचे देवदार के पेड़ों के बीच बसा यह मंदिर 16वीं सदी में स्थापित बताया जाता है. 

image credit : social media

पांडवों में से एक भाई भीम की पत्नी हिडिंबा को देवी के तौर पर सिर्फ यहीं पूजा जाता है.

image credit : social media

इस तरह की और वेब स्टोरी के लिए क्लिक करे