March 5, 2024

NEWSZON

खबरों का digital अड्डा

BJP-RLD गठबंधन के बाद बसपा में वापसी कर सकते हैं मुजफ्फरनगर जिले के मुस्लिम नेता

BJP-RLD alliance

BJP-RLD alliance

  • मुजफ्फरनगर जिले के मुस्लिम नेता बसपा में वापसी कर सकते हैं.
  • कुछ नेताओं ने बसपा प्रमुख मायावती से भी मुलाकात की
  • मुजफ्फरनगर और कैराना सीट पर टिकट का दावा कर रहे हैं

मुजफ्फरनगर। बीजेपी-आरएलडी गठबंधन राजनीति में नए समीकरण बनाएगा. कयास लगाए जा रहे हैं कि जिले के कई मुस्लिम नेता बसपा में वापसी कर सकते हैं। इनमें से कुछ नेताओं ने बसपा प्रमुख मायावती से भी मुलाकात की है. वे मुजफ्फरनगर और कैराना सीट पर टिकट की दावेदारी कर रहे हैं.

मुजफ्फरनगर दंगों के बाद से हुए विधानसभा और लोकसभा चुनावों में मुस्लिम नेताओं की राजनीति पटरी से उतरी हुई नजर आ रही है. राजनीति में कई बार पाला बदलने के बावजूद अभी तक टिकट और जीत की राह नहीं मिल पाई है. कुछ नेता बसपा छोड़कर सपा और कुछ रालोद में भी शामिल हो गए। बीजेपी और आरएलडी के बीच बढ़ती नजदीकियों के बीच कई मुस्लिम नेता अब राजनीति के नए समीकरण की ओर रुख करने लगे हैं. इनमें तीन मुस्लिम नेताओं ने बसपा से टिकट के लिए पूर्व मुख्यमंत्री मायावती से बातचीत शुरू कर दी है। हालांकि, बेहद गोपनीय तरीके से हो रही बातचीत में अभी तक कोई सहमति नहीं बन पाई है. एनडीए गठबंधन की स्थिति पर बसपा की भी नजर है. इसके बाद ही उम्मीदवारों की सूची तैयार की जाएगी.

बसपा के गठबंधन में शामिल होने की संभावना
बीएसपी प्रमुख मायावती ने अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया है, लेकिन फिर भी कांग्रेस के साथ उनके गठबंधन की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता. ऐसी संभावना है कि आचार संहिता लागू होने के बाद बसपा मुख्य विपक्षी दल भारत गठबंधन का हिस्सा बन सकती है. पिछले एक सप्ताह में जिस तरह से समीकरण बदले हैं, उसे देखते हुए इसकी प्रबल संभावना है. हाल ही में बसपा प्रमुख ने लखनऊ में जिलाध्यक्षों की बैठक बुलाई थी, जिसमें प्रत्याशियों के आवेदन को लेकर कई अहम निर्देश दिए गए थे.

दलित-मुस्लिम समीकरण बनेगा चुनौती
अगर बसपा कांग्रेस से गठबंधन करती है तो नया समीकरण बनेगा. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भारत का दलित-मुस्लिम समीकरण कई सीटों पर बीजेपी के लिए चुनौती बन सकता है. पिछले लोकसभा चुनाव में भी बसपा ने सहारनपुर और बिजनौर सीट पर जीत हासिल की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *