March 5, 2024

NEWSZON

खबरों का digital अड्डा

Harda Fire News: हरदा में पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट, छह की मौत, 60 से ज्यादा घायल, सीएम ने बुलाई आपात बैठक

MP Harda Firecracker Factor Blast

MP Harda Firecracker Factor Blast

MP Harda Firecracker Factor Blast: मध्य प्रदेश के हरदा में एक पटाखा फैक्ट्री में मंगलवार सुबह धमाके के बाद आग लग गई. हादसे में कई लोगों के मारे जाने और घायल होने की खबर है. आग पर काबू पाने की कोशिशें जारी हैं.

मध्य प्रदेश के हरदा में मगरदा रोड पर बैरागढ़ रेहटा नामक स्थान पर स्थित एक पटाखा फैक्ट्री में मंगलवार सुबह आग लग गई. इसके बाद भयानक विस्फोट होने लगे. धमाके इतने तेज़ थे कि आसपास की इमारतें भी हिल गईं. कुछ इमारतों के गिरने की भी खबरें हैं. आग ने आसपास के घरों को भी अपनी चपेट में ले लिया. छह लोगों की मौत की पुष्टि की गई है. ये आंकड़ा और भी बढ़ सकता है. 60 से ज्यादा घायल हैं. कुछ की हालत गंभीर बताई जा रही है. हरदा ब्लास्ट को लेकर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने आपात बैठक बुलाई है. साथ ही मंत्री उदय प्रताप सिंह समेत वरिष्ठ अधिकारियों को हरदा रवाना होने के निर्देश दिए गए हैं.

हादसे की जानकारी मिलते ही प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने मोर्चा संभाल लिया. आग बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड भी पहुंची. धमाकों का सिलसिला थम नहीं रहा है, जिससे राहत और बचाव कार्य प्रभावित हो रहा है. घायलों को एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया जा रहा है. आग लगने के वक्त फैक्ट्री में 30 से ज्यादा कर्मचारी काम कर रहे थे. यह भी आशंका है कि घायलों और मृतकों में बच्चे और महिलाएं भी हो सकती हैं. शुरुआती जानकारी के मुताबिक, यह पटाखा फैक्ट्री राजू अग्रवाल की है. धमाके इतने भीषण थे कि आसपास के घर ढह गए.

सड़क किनारे पड़े हुए शव
हादसे के बाद गाड़ियां उछलकर पास की सड़क पर जा गिरीं। कुछ लोगों की तो सड़क पर ही मौत हो गई. उनके शव सड़क किनारे पड़े हुए हैं. हरदा कलेक्टर ऋषि गर्ग ने मौतों की पुष्टि नहीं की है. उन्होंने बताया कि 20 से 25 लोग घायल हुए हैं. कुछ की हालत गंभीर है. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की मदद ली जा रही है. हमारा ध्यान बचाव और राहत कार्यों पर है।’

100 से ज्यादा घर खाली कराए गए
पटाखा फैक्ट्री में धमाके के बाद आसपास के 60 से ज्यादा घरों में आग लग गई. फैक्ट्री के आसपास सड़क पर कुछ शव पड़े दिखे. 25 से ज्यादा घायलों को हरदा जिला अस्पताल ले जाया गया है. प्रशासन ने 100 से ज्यादा घरों को खाली करा लिया है. विस्फोट के प्रभाव से पास की सड़क पर चल रहे वाहन भी कुछ दूर तक उछल गये। इलाके में अफरा-तफरी का माहौल है. फैक्ट्री से उठती आग की लपटें और धुआं दूर से देखा जा सकता है.

खंडवा से रवाना हुई एम्बुलेंस, नर्मदापुरम
हादसा इतना बड़ा था कि हरदा जिले में एंबुलेंस की कमी हो गई. नर्मदापुरम और खंडवा से भी एंबुलेंस हरदा भेजी गई हैं। लोगों को भोपाल और इंदौर में इलाज के लिए तैयार रहने को कहा गया है।

मुख्यमंत्री ने की आपात बैठक
मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने हरदा घटना पर संज्ञान लेते हुए मंत्री उदय प्रताप सिंह, एसीएस अजीत केसरी, डीजी होम गार्ड अरविंद कुमार को हेलीकॉप्टर से हरदा जाने के निर्देश दिये हैं. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने मंत्रालय में आपात बैठक बुलाई थी. इस दौरान उन्होंने कहा कि घायलों को तत्काल इलाज मुहैया कराना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है. आसपास के इलाकों से हरदा में एंबुलेंस भेजी जा रही हैं. साथ ही हेलीकॉप्टर की व्यवस्था के लिए सेना से संपर्क किया गया है. भोपाल, इंदौर में मेडिकल कॉलेज और अंभोस पाल में बर्न यूनिट को तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं.

होशंगाबाद में भी अस्पतालों में घायलों के इलाज की व्यवस्था की गई है. होशंगाबाद और आसपास के इलाकों से तत्काल 14 डॉक्टर भेजे गए हैं। हरदा में 20 एंबुलेंस मौजूद हैं और 50 और आ रही हैं. भोपाल, इंदौर, बैतूल, होशंगाबाद, भेरुंदा, रेहटी सहित अन्य नगरीय निकायों और संस्थाओं से फायर ब्रिगेड हरदा भेजी जा रही हैं। मुख्य सचिव वीरा राणा, पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्सैना, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान, प्रमुख सचिव गृह संजय दुबे, प्रमुख सचिव सचिन नगरीय प्रशासन एवं विकास नीरज मंडलोई, प्रमुख सचिव सामान्य प्रशासन मनीष रस्तोगी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री राघवेंद्र सिंह एवं अन्य अधिकारी बैठक में मौजूद थे. थे।

शिवराज ने कहा- दुखद खबर
हरदा हादसे पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुख जताया है. साथ ही हादसे में फंसे सभी नागरिकों की सलामती और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना की।

पास की गौशाला भी क्षतिग्रस्त हो गई
धमाके इतने भीषण थे कि पास की एक गौशाला भी क्षतिग्रस्त हो गई. वहां मौजूद एक कर्मचारी ने बताया कि खिड़कियों के शीशे टूटे हुए हैं. इससे मुनीम घायल हो गया। इलाज किया जा रहा है।

कई किलोमीटर तक भूकंप जैसी स्थिति
पटाखा फैक्ट्री में आग लगने के बाद जोरदार धमाके हुए. करीब 10 से 15 बड़े धमाके हुए. भूकंप जैसे तेज झटके महसूस किए गए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *