March 1, 2024

NEWSZON

खबरों का digital अड्डा

कौन है आईएएस मेधा रूपम | मेधा रूपम जीवनी | Medha Roopam IAS Biography in Hindi | ias medha roopam biography

आईएएस मेधा रूपम

आईएएस मेधा रूपम

कौन है आईएएस मेधा रूपम || मेधा रूपम जीवनी || Medha Roopam IAS Biography in Hindi || ias medha roopam biography

भारत में लगभग 5000 IAS अधिकारी हैं। सुश्री मेधा रूपम उन 5000 वीआईपी में से एक हैं। भारत जैसे बड़े और आबादी वाले देश का प्रशासन करने के लिए 5000 IAS अधिकारी बहुत कम संख्या में लगते हैं। आईएएस अधिकारी बनना भारत में एक बड़ी उपलब्धि मानी जाती है, यह उस परिवार के लिए बहुत सम्मान की बात है जिससे आईएएस अधिकारी संबंधित है।

इस आर्टिकल में आप सुश्री मेधा रूपम आईएएस की उनकी योग्यता, उनकी पृष्ठभूमि और उन्हें भारत या विदेश में प्राप्त प्रशिक्षण के बारे में जान सकेंगे। इसके अलावा इस आर्टिकल में सुश्री मेधा रूपम आईएएस विभिन्न पदों को दिखाया जाएगा।

केरल की स्टेट शूटिंग चेंपियनशिप में खेलकर तीन गोल्ड़ मेडल जीतने के साथ केरल स्टेट का रिकॉर्ड ब्रेक भी उन्होंने किया। केरल कैडर के आईएएस पिता से प्रेरणा लेकर मेधा रूपम आईएएस अफसर बन गयी। मेधा रूपम के पति भी एक आईएएस अफसर है, यह भी एक इत्तेफाक है कि दोनो पति-पत्नी उत्तर प्रदेश कैडर और 2014 बैच के आईएएस अफसर है। मसूरी से लेकर उन्नाव तक का सफर एक साथ रहा। जी हां हम बात कर रहे है आईएएस अफसर एवं ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी की ACEO मेधा रूपम की।

इंटरमीडिएट की पढ़ाई

हापुड़ की जिला अधिकारी की जिम्मेदारी संभालने वाली आईएएस अधिकारी मेधा रूपम के पति भी आईएएस अधिकारी हैं जहां एक ओर मेधा रूपम को हापुड की जिम्मेदारी दी गई है। तो वही उनके पति मनीष बंसल को संभल जिले का डीएम बनाया गया है। आईएएस मेधा रूपम 2014 बैच की आईएएस अधिकारी है आईएएस मेधा रूपम मूल रूप से आगरा से हैं जिनकी पढ़ाई केरल में हुई थी 2008 में इंटरमीडिएट की पढ़ाई के दौरान उन्होंने 10 मीटर की एयर राइफल पीपी साइट में प्रशिक्षण लिया और केरल स्टेट शूटिंग चैंपियनशिप में भाग लेकर तीन गोल्ड मेडल जीतकर केरल स्टेट में नया रिकॉर्ड कायम किया।

कौन है आईएएस दीपक मीणा | दीपक मीणा की जीवनी | DM Deepak Meena Biography | deepak meena ias

अब जनपद हापुड़ में जिलाधिकारी की कमान अपर आयुक्त मेरठ मेधा रूपम को सौंपी गई है।

नाममेधा रूपम
निक नाममेधा
पेशाआईएएस अधिकारी (IAS)
मूल निवासीआगरा
आयु 32
जन्म दिनांक 21 अक्टूबर 1990
जन्म स्थानआगरा
धर्म हिन्दू
जातिगुप्ता
लिंगमहिला
वैवाहिक स्थितिविवाहित
शैक्षिक योग्यताबीए अर्थशास्त्र आनर्स
राष्ट्रीयताभारतीय

कौन हैं Lt. Gen. Manoj Pande? | lt. gen. manoj pandey biography in hindi

megha rupam dm hapur

megha rupam dm hapur

प्रांरभिक शिक्षा

IAS मेधा रूपम के पति भी है आइएएस अफसर आईएएस अफसर मेधा रूपम में के पति भी 2014 बैच के आईएएस अफसर है। मनीष बसंल का जन्म पंजाब में 14 जनवरी 1990 को हुआ था। उनकी प्रांरभिक शिक्षा पंजाब में ही हुई। आईएएस मनीष एमटेक किया हुआ है। आईएएस मनीष बंसल की ट्रेनिंग मसूरी में 1 सितम्बर 2014 से 4 जून 2015 तक हुई।

वर्तमान में ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी की ACEO
पदभार ग्रहण करने का दिनांक23 फरवरी 2023
पूर्व मेंजिला अधिकारी, जनपद हापुड़
बैच2014
प्रारंभिक पढ़ाईनेवल पब्लिक स्कूल, एर्नाकुलम
स्नातकसेंट स्टीफंस कालेज, दिल्ली 
आईएएस परीक्षादसवां स्थान
प्रयासदूसरा

शूटिंग

मेधा रूपम ने उत्तर प्रदेश के आगरा जनपद में ज्ञानेश गुप्ता के परिवार में 21 अक्टूबर को जन्म लिया था। ज्ञानेश गुप्ता आईएएस अफसर है। मेधा रूपम की छोटी बहन का नाम अभिश्री है। पिता की केरल पोस्टिंग होने के कारण मेधा रूपम की पढ़ाई वहीं पर हुई। सन् 2008 में कक्षा 12वी के पढ़ाई के दौरान मेधा रूपम ने शूटिंग में अपना हाथ आजमाना शुरू कर दिया था। 10 मीटर की एयर रायफल पीपी साइट में ट्रेनिंग ली।

सिविल सर्विस

उसके बाद मेधा रूपम ने केरल की स्टेट शूटिंग चैपिंयनशिप में भाग लिया और तीन गोल्ड मेडल जीतने के साथ केरल स्टेट का रिकॉर्ड ब्रेक किया। उसके बाद केरल से मेधा रूपम स्नातक की पढ़ाई के लिये देश की राजधानी दिल्ली आ गयी थी। उन्होंने विश्वविद्यालय स्तरीय प्रतियोगिताओं में भाग लेने के साथ 2009 में नेशनल चैंपियनशिप में प्रतिभाग किया। उसके बाद मेधा रूपम ने सिविल सर्विस की तैयारी की वजह से शूटिंग को छोड़ दिया था। मेधा रूपम सिविल सर्विस की परीक्षा को पास कर 2014 बैच की आईएएस अफसर बन गयी। मेधा रूपम ने आईएएस अफसर बनने की प्रेरणा अपने पिता से ही ली थी।

पिता ज्ञानेश गुप्ता IAS, केरल कैडर
माता
भाई
बहनअभिश्री IAS, 297 रैंक
पतिमनीष बंसल IAS, जिलाधिकारी संभल
दादाडा. सुबोध कुमार गुप्ता (स्वास्थ्य अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त)
दादीसत्यवती गुप्ता (समाजसेवी)
नानाडॉ. ओपी गुप्ता

पद

मेधा रूपम की मसूरी में 4 जून 2015 तक ट्रेनिंग हुई। मसूरी से मेधा रूपम को शासन ने बरेली में सहायक मजिस्ट्रेट बनाकर भेजा। बरेली से मेधा रूपम का 23 अक्टूबर 2016 को तबादला होकर जनपद मेरठ में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के पद तैनात किया गया। मेरठ के ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के पद पर रहते हुए बागपत के जौहड़ी में हुई शूटिंग चैंपियनशिप में मेधा रूपम ने स्वर्ण पदक जीतकर अपने पुराने हाथ दिखाए थे। मेरठ से जनपद उन्नाव में भी आईएएस मेधा रूपम ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के पद ही तैनात रही। आईएएस मेधा रूपम लखनऊ में यू.पी.ए.ए.एम का ज्वाइंट डायरेक्टर के पद कार्यरत रही। 17 नवम्बर 2018 को यू.पी.ए.ए.एम का ज्वाइंट डायरेक्टर के साथ-साथ महिला कल्याण विभाग का विशेष सचिव बनाया गया। आईएएस मेधा रूपम को 12 फरवरी 2019 को लखनऊ से ट्रांसफर होकर जनपद बाराबंकी के मुख्य विकास अधिकारी के पद पर कमान मिली। इसके बाद इन्हे मेरठ का अपर आयुक्त बनाया गया। उसके बाद आईएएस मेघा रूपम को हापुड़ का जिला अधिकारी बनाया गया है। मेधा रूपम ने अब हापुड़ से स्थान्तरण होकर ACEO ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी को ज्वाइन किया है। अब मेधा रूपम ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी एसीइओ बन गई है।

Twittertwitter
Facebookfacebook
Instagraminstagram
Youtubeyoutube

आईएएस मेधा रूपम की बहन अभिश्री (sister Abhisri) भी आइएएस है. अभिश्री परिवार के अफसर क्लब में शामिल हो गई है। अभिश्री ने सिविल सर्विस की परीक्षा में 297 रैंक प्राप्त की है। इसके साथ ही एक ही परिवार में तीन आइएएस हो गए हैं, जबकि कुनबे में आठ आइएएस, आइपीएस हैं। चाचा मनीष 1991 बैच के आइएएस हैं, जबकि फूफा उपेंद्र जैन 1991 बैच के आईपीएस हैं, फुफेरे भाई आशू कुमार आईपीएस और उनकी पत्‍‌नी रुचिका एमपी कैडर से आइएएस हैं। अभिश्री ने दिल्ली में कोचिंग की थी।

मेधा रूपम आईएएस टॉपर, 2013 की रैंक 10
मेधा रूपम ने यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2013 में अखिल भारतीय रैंक दसवीं हासिल करके भारत की सबसे कठिन परीक्षा पास की थी और अपने परिवार का नाम रोशन किया था। उसने कहा, “वह देश की सेवा करने के एकमात्र इरादे से एक आईएएस अधिकारी के अलावा और कुछ नहीं बनना चाहती थी”।

पारिवारिक पृष्ठभूमि :-
मेधा के पिता ज्ञानेश कुमार एक सिविल सेवक हैं और वर्तमान में केरल कैडर से दिल्ली में तैनात हैं। उनकी मां अनुराधा कुमार हाउस मेकर हैं। उसकी एक बहन अभिश्री है। मीधा ने 2014 बैच के यूपी कैडर के आईएएस मनीष बंसल से शादी की।

शैक्षिक पृष्ठभूमि :-
मेधा रूपम ने आठवीं कक्षा तक केरल के एर्नाकुलम के नेवल पब्लिक स्कूल में पढ़ाई की, जबकि उनके पिता वहां जिला कलेक्टर के पद पर तैनात थे। उन्होंने तिरुवनंतपुरम के सेंट थॉमस स्कूल से बारहवीं कक्षा पूरी की और फिर स्नातक की पढ़ाई के लिए अपने परिवार के साथ दिल्ली चली गईं। वह सेंट स्टीफेंस कॉलेज, दिल्ली से अर्थशास्त्र में स्नातक हैं।

वैकल्पिक पेपर:-
मेधा रूपम ने अपने वैकल्पिक विषय के रूप में मनोविज्ञान को चुना क्योंकि उन्हें यह विषय पसंद था।

मेधा रूपम के प्रयास:-
मेधा ने अपने लंबे समय के लक्ष्य को अपने दूसरे प्रयास में पूरा किया है और सिविल सेवा परीक्षा 2013 में 10 रैंक हासिल की है।

उनके पिता उनके लिए प्रेरणा स्रोत थे और हर समय पूरे परिवार ने उनका साथ दिया।

सफलता की रणनीति :-
यह चरण-दर-चरण प्रक्रिया है जिसे उसने अपनाया क्योंकि कोई संरचित दिशानिर्देश नहीं हैं। वह कहती हैं, “सभी को तैयारी के लिए अपनी रणनीति खुद बनाने की जरूरत है”। उसने नए विचारों को अपनाया और शायद यही उसकी सफलता में महत्वपूर्ण योगदानकर्ताओं में से एक रहा है और इस रणनीति का पालन करके उसने अपना लक्ष्य हासिल किया।

युवा भविष्य के उम्मीदवारों के लिए टिप्स:-

• केंद्रित रहें और इसे प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करें।
• यह एक लंबी प्रक्रिया है और आप कभी नहीं जानते कि आगे क्या होता है।
• पिछले प्रयासों का जुनून और अनुभव सफलता की पुष्टि करता है।
• शुरुआत से ही अपने लक्ष्य की दिशा में काम करें।
• पाठ्यक्रम व्यापक होने के साथ-साथ स्पष्ट रूप से परिभाषित है, इसलिए आपको भ्रमित होने की आवश्यकता नहीं है।

 Follow Us On Google NewsClick Here
 Facebook PageClick Here
 Youtube ChannelClick Here
 TwitterClick Here
 Website Click Here

Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें।
Web Title: Who is IAS Medha Rupam? Medha Roopam Biography | Medha Roopam IAS Biography in Hindi | ias medha roopam biography

Thanks!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *