March 1, 2024

NEWSZON

खबरों का digital अड्डा

गन्ना पर्ची कैलेंडर 2022-2023: गन्ना पर्ची कैलेंडर कहां और कैंसे देखें – e ganna up

e ganna

e ganna

Ganna Parchi Calendar -: उत्तर प्रदेश सरकार ने गन्ना किसानों के लिए गन्ना पर्ची कैलेंडर 2022-23 देखने के लिए ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा प्रदान की है इस पोर्टल के माध्यम से किसान अपनी गन्ना बिक्री से सम्बंधित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते है। इसके साथ की सरकार द्वारा “EGanna App” (EGanna) लॉन्च किया है।

कृर्षि जगत: गन्ना पर्ची कैलेंडर 2022-2023:गन्ना पर्ची कैलेंडर कहां और कैंसे देखें (Krishi Jagat: Sugarcane Slip Calendar 2022-2023: Where and how to see Sugarcane Slip Calendar)

e ganna up : क्या है गन्ना पर्ची कैलेंडर?

e ganna up : भारत एक कृषि प्रधान देश है। कृषि भारत देश का प्रधान व्यवसाय है। किसानों को अन्नदाता कहा जाता है। अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग फसलों की खेती की जाती है। उत्तर प्रदेश गन्ने के उत्पादन में देश में सबसे अग्रणी है। पूरे देश में सर्वाधिक गन्ने का उत्पादन करने वाला राज्य उत्तर प्रदेश ही है। लेकिन हमारे देश में किसानों की स्थति काफी दयनीय है। चीनी मिलों की मनमानी और उचित मूल्य का भुगतान न किए जाने से किसान काफी परेशान हैं। ऐसे में सरकार द्वारा गन्ना किसानों का समर्थन मूल्य (MSP) बढाया गया ताकि किसानों को उचित मूल्य मिल सके। गन्ना किसानों की दूसरी सबसे बड़ी समस्या है गन्ना पर्ची कैलेण्डर (Ganna Parchi Calendar)। गन्ना पर्ची न मिल पाने की वजह से उनका गन्ना बर्बाद हो जाता था। इसके लिए भी सरकार द्वारा उचित कदम उठाया गया है।

कई लोगों के मन में सवाल होगा कि आखिर गन्ना पर्ची कैलंडर (Ganna Parchi Calendar) होता क्या है? तो आपकी परेशानी हम दूर कर देते हैं। दरअसल चीनी मिल समस्त गन्ना किसानों के खेत और उनकी फसलों का सर्वे करती हैं। इसके बाद मिल अपनी क्षमता के अनुसार किसानों से उनका गन्ना खरीदती हैं। लेकिन कई किसानों से एक ही दिन और एक साथ इतना गन्ना नहीं खरीदा जा सकता।

इसके लिए मिल द्वारा किसानों को पर्ची आवंटित की जाती हैं। पर्ची पर किसानों द्वारा उनकी फसल के बारे में दी गई जानकारी और फसल की तौल की तारीख अंकित होती है। यह गन्ना पर्ची किसान को दी जाती है। इसके बाद किसान निर्धारित तारीख पर मिल जाकर अपना गन्ना बेचता है। वहीं कैलंडर में हर साल का ब्यौरा रहता है। जैसे किस किसान से कितना गन्ना लिया गया। उसका भुगतान पूरा हुआ या नहीं? किसान के पास कृषि योग्य कितनी भूमि है आदि।

सबसे पहले enquiry.gov.in चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग उत्तर प्रदेश की वेबसाइट पड़ जाए डाटा देखने के लिए कैप्चा कोड एंटर करें…

इसके बाद यूजीसी कोड डालें यदि यूजीसी कोड उपलब्ध नहीं है तो डिस्ट्रिक्ट का नाम लिखें फैक्ट्री कोड डालें और किसान का कोड इंटर करे

गन्ना किसान भाइयों हेतु टोल फ्री नम्बर 1800-121-3203, 1800-103-5823 पर कॉल कर आप अपने गन्ना पर्ची संबंधित जानकारी व शिकायत कर सकते हैं

Read More –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *