March 5, 2024

NEWSZON

खबरों का digital अड्डा

कुछ नया होने वाला है? जयंत चौधरी से मिले बसपा सांसद मलूक नागर

मशहूर राजनीतिक विशेषज्ञ जैनब सिकंदर रालोद में शामिल हो गई हैं। उन्हें पार्टी में अहम जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है। वहीं आज बिजनौर से बसपा सांसद मलूक नागर ने जयंत चौधरी से मुलाकात की।

बिजनौर से बसपा सांसद मलूक नागर ने रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी से मुलाकात की। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दिए जाने पर खुशी जताई और रालोद अध्यक्ष को इसके लिए शुभकामना दी।

आपको बता दें कि मलूक नागर चौधरी अजित सिंह की जयंती के कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे. आरएलडी और बीजेपी के गठबंधन के तहत एनडीए की ओर से आरएलडी को दो लोकसभा सीटें और एक राज्यसभा सीट देने की बात चल रही है. लेकिन इस बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है.

उत्तर प्रदेश में आरएलडी और बीजेपी के बीच गठबंधन का सिर्फ औपचारिक ऐलान हो गया है. दोनों पार्टियों ने गठबंधन को साफ कर दिया हैं. हालांकि, सूत्रों के मुताबिक इस गठबंधन के तहत एनडीए द्वारा आरएलडी को दो लोकसभा सीटें और एक राज्यसभा सीट देने की बात चल रही है. इसमें पश्चिमी यूपी की बागपत और बिजनौर लोकसभा सीट शामिल है.

बिजनौर सीट आरएलडी के खाते में जाने की चर्चा के बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है. इस तस्वीर में बसपा सांसद मलूक नागर नजर आ रहे हैं। यह तस्वीर दिल्ली स्थित आरएलडी के दफ्तर की बताई जा रही है. बसपा सांसद रालोद विधायकों के बीच खड़े नजर आ रहे हैं और उनसे कुछ बातचीत करते नजर आ रहे हैं. इस तस्वीर के सामने आने के बाद कयासों का दौर शुरू हो गया है.

गठबंधन में ये दोनों सीटें आरएलडी को मिलेंगी
दरअसल, सूत्रों के मुताबिक आरएलडी और बीजेपी के बीच गठबंधन के लिए जयंत चौधरी की पार्टी को बागपत और बिजनौर सीटें दी गई हैं. ऐसे में अब रालोद में इन दोनों सीटों पर प्रत्याशियों और दावेदारों की सूची लंबी होती जा रही है। बसपा सांसद की इस तस्वीर ने इन अटकलों को हवा दे दी है. जानकारों के मुताबिक मलूक नागर अब रालोद से चुनाव लड़ना चाहते हैं.

हालांकि, अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि बीएसपी सांसद मलूक नागर वहां क्यों पहुंचे थे. लेकिन सूत्रों की मानें तो उनकी अभी तक जयंत चौधरी से मुलाकात नहीं हुई है. गौरतलब है कि मलूक नागर पिछले चुनाव में बसपा के टिकट पर बिजनौर से लोकसभा चुनाव जीते थे। तब बसपा का समाजवादी पार्टी और रालोद से गठबंधन था। हालांकि, इससे पहले मलूक नागर इसी सीट से 2014 का लोकसभा चुनाव हार गए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *