March 5, 2024

NEWSZON

खबरों का digital अड्डा

बजट में आंकड़ों का खेल कर जनता को गुमराह करने की कोशिश की गई है: अभिमन्यु त्यागी

बजट पर सियासत

बजट पर सियासत

  • बजट में आंकड़ों का खेल कर जनता को गुमराह करने की कोशिश की गई है: अभिमन्यु त्यागी
  • किसानों, नौजवानों, महिलाओं, व्यापारी वर्ग, नौकरीपेशा, के लिए बजट में कुछ नहीं: अभिमन्यु त्यागी
  • गन्ना किसानों के ₹6000 करोड़ रुपए बकाया भुगतान का बजट में कोई जिक्र नहीं: अभिमन्यु त्यागी

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पेश किए गए बजट पर प्रदेश प्रवक्ता अभिमन्यु त्यागी ने तीखी प्रक्रिया व्यक्त करते हुए इसे यूपी की जनता को धोखा देने वाला बजट बताया है।

अभिमन्यु त्यागी ने कहा कि लगभग ₹6000 करोड़ का किसानों का गन्ना भुगतान बकाया सरकार और शुगर मिलों पर है। बजट में गन्ना भुगतान के लिए कोई ऐलान नही किया गया और न ही अलग से कोई बजट जारी किया गया। त्यागी ने कहा कि आलू, प्याज, टमाटर की एमएसपी का वादा किया गया था जिसका आज भी प्रदेश के किसान भाई बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। बजट के खाद्य के दामों में कटौती की उम्मीद थी पर किसानों के निराशा हाथ लगी।

फसल बीमा योजना किसानों से ज्यादा बीमा कपनियों के लिए ज्यादा फायदेमंद है, अब तक सिर्फ 831 करोड़ का भुगतान बीमा कंपनियों के द्वारा किया गया। मुफ्त सिंचाई का लाभ अभी तक किसानों को नही मिला है और बजट में मुफ्त सिंचाई देने का कोई ठोस जिक्र नही किया गया है। छुट्टा जानवरों के लिए शेल्टर होम और चारे समेत अन्य खर्चों का बजट में ठोस जिक्र नही है।

60 वर्ष से अधिक उम्र वाले किसानों को ₹3000/महीना पेंशन देने की बात बजट में किया गया है। परंतु किसान सम्मान निधि मे भी सारी किस्तें किसानों को नही मिल रही है और काफी किसानों के नाम काट दिए गए हैं।

प्रदेश प्रवक्ता अभिमन्यु त्यागी ने कहा कि मुख्यमंत्री खेत सुरक्षा योजना में छोटे, लघु, सीमांत किसानों को प्रति हेक्टेयर लागत का 60 प्रतिशत या 1.43 लाख रूपये का अनुदान दिया जायेगा। इस योजना के माध्यम से फसलों को जानवरों से बचाने के लिए केवल 12 वोल्ट करंट लगने वाली सौर इलेक्ट्रिक बाड़ लगाई जाएगी। 75 जिलों के लिए कुल 50 करोड़ देकर सिर्फ किसानों का मजाक उड़ाया गया है।

प्रदेश प्रवक्ता अभिमन्यु त्यागी ने कहा कि वादा किया गया था कि मेधावी छात्राओं को स्कूटी दी जायेगी। परन्तु अभी तक नहीं दी गई न ही बजट में इसके लिए कोई बजट दिया गया है। साथ ही वादा किया था कि विधवा पेंशन 1000 रूपये से बढ़ाकर 1500 रूपये कर दी जायेगी परन्तु बजट में इसका भी कोई जिक्र नहीं किया गया। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगलम योजना के तहत धनराशि 15000 से बढ़ाकर 25000 करने का वादा किया गया था जो पूरा नहीं किया गया।

त्यागी ने कहा कि सभी सर्वाजनिक संस्थानों और शैक्षिक संस्थानों पर सी0सी0टी0वी0 कैमरा लगाने का वादा किया गया परन्तु आज भी पूरा नहीं हुआ और महिलाओं के प्रति अपराध में उत्तर प्रदेश के पहले स्थान पर है। महिलाओं के लिए अवंतीबाई, ऊदादेवी, झलकारी बाई बटालियन बनाने का वादा किया गया था वह भी हवा हवाई निकला।

प्रदेश प्रवक्ता अभिमन्यु त्यागी ने कहा कि मध्यम वर्गीय आय के लोग आज भी होली और दीपावली के अवसरों पर मुफ्त रसोई गैस सिलेंडर का इंतजार कर रहे हैं।

अभिमन्यु त्यागी ने कहा कि विश्वकर्मा तकनीकि के तहत प्रदेश के प्रत्येक ब्लाक में आईटीआई बनाने का वादा किया गया था अभी तक कितने बनाये गये उसका ब्यौरा उपलब्ध कराया जाना चाहिए।

अभिमन्यु त्यागी ने कहा कि पूरे बजट में युवाओं के रोजगार के लिए कोई भी ठोस योजना नहीं है। आसाध्य रोगों के लिए मात्र 125 करोड़ की धनराशि के आवंटन से उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्य ऊंट के मुंह में जीरा जैसी बात है। त्यागी ने कहा कि लघु एवं सूक्ष्म उद्योग लगातार बंद होते जा रहे हैं। भदोही में 1200 निर्यातक हुआ करते थे जो आज घटकर मात्र 150 रह गये है। 25 लाख लोग कार्य करते थे जो घटकर 5 लाख रह गये हैं।

अभिमन्यु त्यागी ने कहा कि रिपोर्ट के अनुसार पूर्व बजट का अब तक 20 प्रतिशत कम खर्च हुआ है। पूर्व में 24868 करोड़ की योजनाएं घोषित की गई थी जो आज तक पूरी नहीं हो पाई और आज पुनः 32 हजार करोड़ की नई योजनाएं घोषित कर दी गई हैं। कुशीनगर का हवाई अड्डा करोड़ो रूपये की लागत से बनाया गया परन्तु कितनी फ्लाइट्स रोजाना वहां से संचालित होती है इसका जवाब दे। पूर्णतः जनता के पैसे का दुरूपयोग है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *