March 5, 2024

NEWSZON

खबरों का digital अड्डा

UP Politics: स्वामी प्रसाद मौर्य पर कार्रवाई की मांग के बीच अखिलेश यादव ने तोड़ी चुप्पी, जानें क्या कहा?

Akhilesh Yadav

Akhilesh Yadav

Akhilesh Yadav on Swami Prasad Maurya: अखिलेश यादव ऑन स्वामी प्रसाद मौर्य: मध्य प्रदेश में चुनावी दौरे पर निकले अखिलेश यादव ने जातीय जनगणना का मुद्दा उठाया. उन्होंने पिछड़े वर्ग के लिए 27 फीसदी आरक्षण की वकालत की.

UP Politics: स्वामी प्रसाद मौर्य दिवाली के दिन देवी लक्ष्मी पर विवादित टिप्पणी को लेकर सुर्खियों में हैं. उनके बयान की राजनीतिक गलियारों से लेकर सड़क तक निंदा हो रही है. स्वामी प्रसादी मौर्य के बयान पर विरोधी अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) अपना रुख स्पष्ट करने का दबाव बना रहे हैं. चुनावी तैयारियों के बीच मध्य प्रदेश पहुंचे अखिलेश यादव मीडिया से मुखातिब हुए. स्वामी प्रसाद मौर्य पर कार्रवाई के सवाल पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव बचते दिखे. उन्होंने कहा कि ये बात मध्य प्रदेश की नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश की है. उन्होंने सवाल का स्पष्ट जवाब देने की बजाय जातीय जनगणना का मुद्दा उठा दिया.

स्वामी प्रसाद मौर्य पर क्या कार्रवाई होगी?

अखिलेश यादव ने मांग की कि पिछड़ी जातियों को अधिकार और उनकी आबादी के हिसाब से 27 फीसदी आरक्षण मिलना चाहिए. एक सवाल के जवाब में उन्होंने स्वामी प्रसाद मौर्य को क्लीन चिट दे दी. सवाल था कि क्या स्वामी प्रसाद मौर्य बीजेपी के एजेंट हैं? अखिलेश यादव ने कहा कि कोई किसी का एजेंट नहीं है. कुछ लोग इसलिए सहमत नहीं होते क्योंकि उनके विचार अलग-अलग होते हैं. स्वामी प्रसाद मौर्य पर कार्रवाई के सवाल को टालते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि यह उत्तर प्रदेश का सवाल है. इसलिए इसका फैसला उत्तर प्रदेश में होगा.

इस सवाल पर अखिलेश यादव चुप रहे

मामला मध्य प्रदेश का नहीं है. आपको बता दें कि स्वामी प्रसाद लक्ष्मी देवी पर बयान देकर मुश्किल में फंस गए हैं. विरोधियों को अखिलेश यादव से कार्रवाई की उम्मीद थी. कार्रवाई के सवाल पर अखिलेश यादव चुप रहे. हालांकि, सपा का ही एक गुट स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान की आलोचना कर रहा है. इसके विरोध में बीजेपी ने मोर्चा खोल दिया है. विवादों में घिरे स्वामी प्रसाद मौर्य के लिए अखिलेश यादव का बयान राहत भरा हो सकता है.

1 thought on “UP Politics: स्वामी प्रसाद मौर्य पर कार्रवाई की मांग के बीच अखिलेश यादव ने तोड़ी चुप्पी, जानें क्या कहा?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *